प्रोत्साहन न मिलने से हताश दिखे क्रिकेटर आर्यन जुयाल

देहरादून। संवाददाता। अंडर-19 विश्व कप विजेता भारतीय टीम के सदस्य रहे आर्यन जुयाल ने कहा कि अभी वह रणजी ट्रॉफी में जगह बनाने पर ध्यान दे रहे हैं। इसमें शानदार प्रदर्शन के दम पर वो भारतीय क्रिकेट टीम में एंट्री के प्रयास में हैं। आर्यन ने प्रदेश सरकार की ओर से किसी तरह का प्रोत्साहन न मिलने पर निराशा भी व्यक्त की।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं को क्रिकेट एसोसिएशन का लाभ नहीं मिल पाता है और जो युवा मेहनत करके प्रदेश का नाम रोशन करते हैं उन्हें भी प्रोत्साहन नहीं दिया जाता।रविवार को देहरादून पहुंचे हल्द्वानी के 16 वर्षीय युवा क्रिकेटर आर्यन जुयाल राजपुर रोड स्थित अविरल क्लासेज में पत्रकारों से मुखातिब हुए। आर्यन ने कहा कि अंडर-19 विश्व कप का हिस्सा बनना उनके लिए गर्व की बात है।

इससे उन्हें काफी अनुभव मिला है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि टूर्नामेंट में उन्हें प्रतिभा दिखाने का पर्याप्त मौका नहीं मिल सका। आर्यन ने बताया कि हाल ही में वे उत्तर प्रदेश की टीम से विजय हजारे ट्रॉफी भी खेले हैं। अंतिम मैच में उन्होंने 69 रनों की पारी भी खेली थी। अब वह रणजी ट्रॉफी के लिए मेहनत करेंगे।आर्यन ने प्रदेश सरकार की ओर से किसी तरह की मदद न मिलने के सवाल पर कहा कि विषम परिस्थितियों में खिलाड़ी प्रदेश का नाम रोशन करता है, लेकिन सरकार खिलाड़ी को प्रोत्साहित करने के लिए फिर भी आगे नहीं आती। इससे दुख होता है। इससे युवा खिलाड़ी भी कहीं न कहीं हतोत्साहित होते हैं। बताया कि बीसीसीआइ उन्हें प्रोत्साहन के रूप में 30 लाख रुपये की राशि दे चुकी है। पत्रकार वार्ता के दौरान उनके कोच रविंद्र नेगी भी उपस्थित रहे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *