भाजपा पार्षद से मारपीट के आरोप में जेल गए मेयर को मिली जमानत, पार्षद पर मुकदमा दर्ज


पार्किंग को लेकर भाजपा पार्षद से मारपीट के मामले में आरोपी मेयर यशपान राणा को जमानत मिल गई और साथ ही पार्षद पर कई धाराएं लगाई गई है। मेयर पर लगाई गई धारा (307) जानलेवा हमला हटाकर धारा (325) गंभीर चैट पंहुचाना लगाई गई है।

रूड़की। भाजपा पार्षद से मारपीट मामले में नया मोड़ आ गया है। हमले के आरोप में गिरफ्तार मेयर यशपाल राणा को जमानत मिल गई। पुलिस ने मेयर के खिलाफ दर्ज जानलेवा हमले की धारा को भी हटा दिया है। जबकि मारपीट में घायल भाजपा पार्षद चंद्र प्रकाश बाटा और उनके भांजे निखिल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। दोनों पर लूट, मारपीट, एससी-एसटी एक्ट आदि धाराएं लगाई गई हैं।
रविवार रात रुड़की के राम दयाल चैक के पास कार पार्किंग को लेकर विवाद हो गया था। आरोप है कि मेयर यशपाल राणा ने विवाद के बाद भाजपा पार्षद चंद्र प्रकाश बाटा पर हमला कर दिया। पुलिस ने सोमवार को मेयर यशपाल राणा को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया था। कोर्ट ने मेयर को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था। मंगलवार को मेयर की ओर से कोर्ट में जमानत याचिका दायर की गई। दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने मेयर को जमानत दे दी। मेयर को जमानत मिलने की सूचना पर उनके समर्थक बड़ी संख्या में जेल के बाहर पहुंच गए।
कागजी कार्यवाही के बाद देर शाम को मेयर को रिहा कर दिया गया। मेयर का उनके समर्थकों ने स्वागत किया। इससे पहले पुलिस ने मेयर पर लगी धारा 307 (जानलेवा हमला) को हटा दिया। धारा 307 की जगह धारा 325 (गंभीर चोट पहुंचाना) लगाई गई। मामले को लेकर दिनभर रुड़की में गतिरोध बना रहा। मेयर समर्थकों के बड़ी संख्या में पहुंचने के कारण देहरादून हाईवे पर घंटों जाम लगा रहा। मेयर के समर्थक हाईवे स्थित उप कारागार के बाहर जमे रहे। मेयर समर्थकों के बड़ी संख्या में आने से हाईवे पर वाहन बामुश्किल आगे बढ़ पाए।

भाजपा पार्षद और भांजे के खिलाफ मुकदमा दर्ज
पुलिस ने भाजपा पार्षद चंद्र प्रकाश बाटा और उनके भांजे निखिल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। लूट, मारपीट, एससी-एसटी एक्ट आदि की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में पार्षद पक्ष की ओर से मेयर यशपाल राणा, उनके पुत्र सहित अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ था। मामले में मेयर को जानलेवा हमले के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था। सोमवार को मेयर के पुत्र लवी राणा की ओर से भी पुलिस को तहरीर दी गई थी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने भाजपा पार्षद बाटा, उनके भांजे निखिल वर्मा सहित दो अज्ञात के खिलाफ मारपीट, गाली-गलौज, जान से मारने की धमकी, लूट और एससी-एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया। एसएसआई गंगनहर चंद्रमोहन सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पार्षद का देहरादून के सीएमआई अस्पताल में उपचार चल रहा है।

मेयर की गिरफ्तारी के खिलाफ सड़क पर उतरे कांग्रेसी
भाजपा पार्षद पर हमले के आरोप में मेयर यशपाल राणा की गिरफ्तारी से नाराज कांग्रेसियों ने प्रदर्शन किया। प्रदेश अध्यक्ष से लेकर जिलेभर के कांग्रेसी रुड़की में जुटे। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने सरकार के दबाव में मेयर की गिरफ्तारी का आरोप लगाया। मेयर की गिरफ्तारी के बाद से ही कांग्रेसी इसे सत्ता के दबाव में की गई कार्रवाई करार देते हुए विरोध कर रहे थे। मंगलवार को पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों से लेकर जिलेभर के कांग्रेसी रुड़की में जुटे। रामपुर चुंगी स्थित कलियर विधायक फुरकान अहमद के आवास पर कांग्रेसियों ने बैठक की।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *