पुलिस को चकमा देकर तस्कर जेल से हुआ फरार, तीन पुलिस कर्मि सस्पेंड


देहरादून। स्मैक की तस्करी में गिरफ्तार आरोपी कोतवाली की हवालात से रात करीब सवा 11 बजे पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। पुलिस ने देहरादून की सीमाएं सीलकर आरोपी की धरपकड़ के लिए चेकिंग शुरू कर दी। मामले में तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड किया गया है।
देहरादून की धारा चैकी पुलिस ने बुधवार शाम बिंदाल चैक के पास से स्मैक तस्करी में अमित श्रीवास्तव पुत्र साधुचरण सिंह निवासी इंदिरा नगर (लखनऊ) को गिरफ्तार किया था। आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे कोतवाली स्थित हवालात में रखा गया था। उसे गुरुवार को कोर्ट में पेश करना था।

एसएसआई कोतवाली अशोक राठौर ने बताया कि देर रात हवालात में उसने तबीयत खराब होने का बहाना बनाया। हवालात में वह चिल्लाता रहा तो मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने पानी पिलाने के लिए उसे बाहर निकला। इस दौरान आरोपी पुलिसकर्मी को धक्का देकर भाग निकला। मामले में तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। देर रात तक आरोपी की तलाश जारी थी।

महिला सिपाही को धक्का देकर भागा आरोपी
कोतवाली से स्मैक तस्करी के आरोपी के फरार होने की सूचना वायरलेस पर फैलते ही पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मच गया। घटना जिस वक्त हुई उस वक्त शहर कोतवाल और एसएसआई कोतवाली भी थाने में मौजूद नहीं थे। एसपी सिटी प्रदीप राय ने बताया कि अमित जिस वक्त हवालात में बंद था, उस वक्त कोतवाली में मुंशी मनमोहन, त्रिलोक और महिला पहरा सिपाही प्रिया तैनात थे। अमित श्रीवास्तव हवालात में चिल्लाया तो मुंशी के कहने पर पहरा कर्मी ने उसे हवालात से बाहर निकाला। इस दौरान पानी पीने का बहाना बनाते हुए आरोपी हवालात के बाहर आया। बाहर आते ही खुद को खुला पाकर अमित ने पहरा कर्मी सिपाही प्रिया को धक्का दिया और भाग निकला। उसके पीछे कोतवाली में तैनात पुलिस कर्मचारी दौड़े। लेकिन उसका कुछ पता नहीं लगा।

इससे पहले भी हवालात से भागा था एक आरोपी
पुलिस अधिकारियों तक सूचना पहुंची तो सिपाही प्रिया, मनमोहन और त्रिलोक को सस्पेंड करने के साथ ही आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई। शहर कोतवाली में हवालात में बंद आरोपी इससे पहले करीब दो वर्ष पहले भी फरार हुआ था। आरोपी के भागने के बाद उसे दबोचने के लिए पुलिस की अलग-अलग टीम में दून में चेकिंग करने के साथ ही लखनऊ के रवाना कर दी गई हैं। वहीं फरार आरोपी अमित के खिलाफ पुलिस अभिरक्षा से भागने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

पत्नी के कोतवाली से निकलते ही किया ड्रामा
अमित के फरार होने से कुछ देर पहले तक उसकी पत्नी भी कोतवाली में ही थी। लेकिन उसके जाते ही आरोपी अमित ने चिल्लाना शुरू कर दिया। नशे का आदी होने के डर पर पुलिस ने उसे हवालात से पानी पिलाने बाहर निकाला। अमित के भागते ही पुलिस ने उसकी पत्नी के मोबाइल की लोकेशन निकाली तो वह दून से हरिद्वार की तरफ बढ़ती मिली। ऐसे में अमित तक पहुंचने के लिए पुलिस उसकी पत्नी को ट्रेस कर रही है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *