डीएम का एआरटीओ दफ्तर में छापा; बाबू की कुर्सी में बैठा मिला दलाल

  • बाबू गायब था,उसकी कुर्सी में बैठ उसका प्राइवेट ड्राइवर फार्म बांट रहा था
  • एआरटीओ आफिस से गायब थे  

हरिद्वार:  डीएम दीपक रावत ने आज यहाँ एआरटीओ कार्यालय हरिद्वार में छापा मारा तो वहां के हालात देख दंग रहे गए। यहां बाबू की कुर्सी पर बैठ कर उसका प्राइवेट ड्राइवर फार्म बांट रहा था। इतना ही नहीं परिसर में दलाल सक्रिय नजर आए। डीएम ने मौके पर अधिकारियों और कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई।

प्राप्त खबर के अनुसार जानकारी के अनुसार हरिद्वार निवासी अनिल अपने स्कूटर का पंजीकरण कराने एआरटीओ दफ्तर पहुंचे थे। उन्होंने काउंटर पर फार्म 20 मांगा तो फार्म होने से इनकार कर दिया। जबकि वही फार्म बाहर दलाल के पास 20 रुपये में बिक रहा था। अनिल ने डीएम को फोन कर इसकी शिकायत की। डीएम अपने दफ्तर से पांच मिनट के भीतर एआरटीओ दफ्तर पहुंच गए। जैसे ही वह दफ्तर के अंदर दाखिल हुए तो देखा कि फार्म काउंटर पर एक युवक बैठा था। पूछताछ की तो पता चला कि वह बाबू मोहन लाल का पर्सनल ड्राइवर है। इसपर डीएम आग बबूला हो गए।

उन्होंने एआरटीओ के बारे में पूछा तो पता चला की वह कार्यालय में ही मौजूद नहीं हिं। उन्होंने फोन पर एआरटीओ से बात कर कहा कि कुर्सी पर बैठे युवक के खिलाफ तुरंत एफआरआई दर्ज की जाए। साथ ही संबंधित बाबू के खिलाफ अनुशासत्मक कार्रवाई की जाए। उन्होंने परिसर से दलालों को खदेड़ने के निर्देश दिए। साथ ही एआरटीओ प्रशासन के दफ्तर में मौजूद नहीं होने पर स्पष्टीकरण मांगा। डीएम दीपक रावत ने कहा आमजन को तकलीफ किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कर्मचारी अपनी जिम्मेदारी पूरी ईमानदारी से निभाएं। साथ ही दोषियों पर सख्त कार्यवाही के आदेश भी दिए।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *