अभिमन्यु की तरह घिरा हूं चक्रव्यूह में, लोगों का साथ मिला तो मरूँगा नहीं -शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय

गूलरभोज (ऊधमसिंह नगर) : शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने स्कूलों में एनसीईआरटी पैटर्न लागू कराने के ही शिक्षा विभाग में आमूलचूल परिवर्तन लाने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि वह अभिमन्यु की तरह चक्रव्यूह में घिरे हैं। बावजूद इसके लोग कृष्ण और अर्जुन बनकर साथ दें तो वह युद्ध में मारे नहीं जाएंगे। उन्होंने बौर जलाशय में सी-प्लेन चलाने को अपनी योजना का प्रमुख बिंदु बता सबको हतप्रभ कर दिया।

कहा- बौर जलाशय में सी-प्लेन चलाऊंगा

बौर जलाशय में एडीबी सहायतित पर्यटन संरचना विकास निवेश कार्यक्रम के सौजन्य से सामुदायिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इसमें बौर जलाशय को साहसिक पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए लोगों से सुझाव मांगे गए। मुख्य अतिथि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने जलाशय को पर्यटन और स्वरोजगार से जोड़ने का खाका पेश किया।

उन्होंने कहा कि यह सूबे का बड़ा टूरिज्म डेस्टिनेशन बनेगा। स्थानीय युवाओं को रोजगार से जोड़ा जाएगा। इससे पूर्व कम्यूनिटी डेवलपमेंट अधिकारी डॉ. जगत सौंटियाल, जिला साहसिक पर्यटन अधिकारी कीर्ति चंद्र आर्या ने सामुदायिक जागरूकता और जलाशय में चल रहे रहे तमाम विकास कार्यों का सिलसिलेवार ब्यौरा रखा।

शिक्षा मंत्री पांडेय ने गदरपुर में डिग्री कॉलेज की घोषणा की। चीनी मिल की भूमि इसके लिए चिह्नित कर ली गई। कोशिश होगी कि अगले शैक्षिक सत्र से कॉलेज शुरू हो जाए। वहीं उन्होंने स्टेट के बजाय जिला स्तर पर ओलंपिक कराने का ऐलान किया। जिला चैंपियन को फोर व्हीलर देकर प्रोत्साहित किया जाएगा।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि पूरे प्रदेश में स्कूली छात्र-छात्राओं के लिए एक ड्रेस लागू होगी। जिसका वितरण व प्रबंधन भी गांव की महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा किया जाएगा। इससे न केवल स्कूलों में एकरूपता नजर आएगी, बल्कि महिला समूह भी समृद्ध होंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *