शिक्षा के क्षेत्र में फ्रांस करेगा उत्तराखण्ड को सहयोग


देहरादून। संवाददाता। राज्यपाल डॉ कृष्णकांत पाल से शुक्रवार को राजभवन में फ्रेंच इंस्टीट्यूट इंडिया के निदेशक व फ्रांस दूतावास में कोऑपरेशन एंड कल्चरल अफेयर्स के काउंसलर डॉ बरट्रान्ड डे हरटिंग ने अपने सहयोगियों के साथ मुलाकात की।

डॉ बरट्रान्ड ने कहा कि उत्तराखंड में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में भागीदारी के लिए देहरादून उनकी प्राथमिकता में है। इस मौके पर काउंसलर डॉ बरट्रान्ड की ओर से उच्च शिक्षा में फ्रांस व उत्तराखंड की साझेदारी पर जोर देने पर राज्यपाल ने कहा कि फ्रांस व उत्तराखंड में विश्वविद्यालयों के स्तर पर साझेदारी की जरूरत है। दोनों तरफ के शिक्षण संस्थानों के पाठ्यक्रमों में समानता भी होनी चाहिए।

राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखंड में जैविक खेती की व्यापक संभावनाएं हैं। इसमें फ्रांस के अनुभव का लाभ मिल सकता है। राज्य की जलवायु सगंध व औषधीय पौधों के अनुकूल है। खाद्य प्रसंस्करण, कुटीर व छोटे उद्योग, एकीकृत खेती के तहत पशुपालन, मधुमक्खी पालन व रेशम के क्षेत्र में भी काफी कुछ किया जा सकता है। इस अवसर पर फ्रांसीसी प्रतिनिधिमंडल में शैफीली सूरी, एमिलिया कार्टियर, कृपालिनी सीपरसाद, एलेनोरे लेपोर्टे मौजूद थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *