देहरादूनः दूसरे समुदाय के युवक के संग गई युवती ने थाने में फांसी लगाकर की आत्महत्या


देहरादून। घर से दूसरे समुदाय के युवक संग गई युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस सूचना बाद घर में कोहराम मच गया। माहौल इतना बिगड़ गया है कि भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात करनी पड़ी है। लोग आरोपी युवक को फांसी दिलाने की मांग कर रहे हैं। देहरादून के रायपुर में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

देहरादून रायपुर वाणी विहार से एक प्रेमी युगल 26 मई से फरार थे। जिसकी रिपोर्ट थाना रायपुर में दर्ज थी। सोमवार-मंगलवार की रात करीब एक बजे ये दोनों नजीबाबाद में रेलवे स्टेशन के आसपास घूम रहे थे। दोनों की तलाश कर रही रायपुर पुलिस को उनके नजीबाबाद रेलवे स्टेशन में होने की सूचना मिली। रायपुर पुलिस ने यहां के रेलवे स्टेशन पुलिस चैकी पर पुलिस से संपर्क करके दोनों को हिरासत में लेने को कहा। पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर थाने आई।
लड़के को पुलिस लॉकअप में रखा गया, जबकि लड़की को लेडीज रूम में रखा गया था।

रात में महिला कॉन्स्टेबल कमरे में अंदर से ताला लगाकर सो गईं। इनके सोने के बाद युवती ने दुपट्टे की सहायता से फांसी लगा ली। रात में लगभग 3 बजे युवती के परिजन थाने पहुंचे। उसे लाने के लिए कमरा खोला गया तो उसकी लाश फांसी के फंदे से लटक रही थी। परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। सीओ नजीबाबाद अरुण सिंह मौके पर पहुंचे और युवती के परिजनों को समझाया।

देहरादून से 26 मई को युवती दूसरे समुदाय के युवक के साथ गई थी। अब युवती की मौत के बाद देहरादून में युवती के परिजन और हिंदूवादी संगठनों में आक्रोश है। गुस्साएं लोगों ने रायपुर थाने के सामने धरना-प्रदर्शन किया और रायपुर रोड पर जाम लगा दिया। देहरादून के रायपुर थाने के बाहर तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है। प्रदर्शनकारियों ने युवती को ले जाने के आरोपी जावेद को कड़ी सजा दिलाने की मांग की है। प्रदर्शनकारियों में कुछ हिंदूवादी संगठनों और भाजपा के नेता भी शामिल हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *