शहर के कारोबारी की हत्या का प्रयास

घायल कारोबारी के लगाए गए हैं 32 टांके


देहरादून। संवाददाता। रविवार की तड़के कुछ हथियारबंद बदमाशों ने शहर के एक कारोबारी की हत्या का प्रयास किया है। कारोबारी अपने एक दोस्त के साथ किसी कार्यक्रम से घर लौट रहा था। बदमाशों ने कारोबारी पर धारदार हथियार से हमला किया है। घायल कारोबारी की जांघ पर 32 टांके लगाए गए हैं। घटना रात करीब तीन बजे कांग्रेस भवन के गेट के पास हुई। हमलावरों की तलाश में कोतवाली पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है।

कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मामले में ईर्सी रोड निवासी कारोबारी संजय कुमार ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ अपने बेटे की हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज करवाया है। संजय कुमार ने पुलिस के बताया कि रविवार तड़के करीब तीन बजे उसका बेटा सागर कुमार अपने कारोबारी पार्टनर कार्तिके के साथ किसी कार्यक्रम से घर लौट रहा था। कांग्रेस भवन के गेट के पास उन्होंने अपनी गाड़ी रोकी और पानी लेने के लिए वहां लगी एक ठेली पर गए। ठेली पर ही कुछ अन्य लोग भी खड़े हुए थे।

वहां खड़े लोगों से सागर का किसी बात को लेकर विवाद और बहस हो गई। बहस इतनी बड़ी कि वहां खड़े लोग पहले से ही अपनी गाड़ी में रखे हथियार निकाल लाए। इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता हथियारबंद बदमाशों ने सागर पर हमला कर दिया। बदमाशों ने सागर पर कई बार किए। हमले में सागर लहूलुहान होकर सड़क पर गिर गया। सागर के दोस्त कार्तिके ने उसे बचाने का प्रयास किया तो हमलावरों ने उससे भी मारपीट की और उसे जान से मारने की धमकी दी।

हमलावरों की धमकी से घबराकर कार्तिके कुछ कर नहीं पाया। मुख्य मार्ग पर हुए इस हमले में आसापास मौजूद लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दे दी। परन्तु पुलिस के पहुंचने से पूर्व ही हमलावर बदमाश मौके से फरार हो गए। घायल सागर को लोगों ने अस्पताल पहुंचाया। जहां सागर की जांघ पर 32 टांके लगाए गए हैं । हमलावर बदमाशों की तलाश मेें कोतवाली पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। फिलहाल हमलावरों के बार में कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। कहंी कोई पुरानी रंजिश तो नहीं इस पूरी घटना में एक और आशंका सामने आ रही है। जिस तरह से बदमाश पहले से ही हथियारों से लैस थे, उससे आशंका लग रही है कि कहीं दोनों पक्षों में पहले से ही कोई विवाद तो नहीं था। हमलावरों को कैसे पता था सागर वहां से गुजरने वाला है। बदमाशों के पास पहले से ही हथियार क्यों थे। मामूली विवाद पर ही बदमाशों ने क्यों धारदार हथियार से सागर की हत्या का प्रयास किया। हांलाकि पुुलिस हमलावर बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद ही सच्चाई सामने आने की बात कही रही है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *