गढ़वाली गीत प्वां बाघ रे का आडियो लांच


देहरादून। लेंसडोन क्षेत्र में बाघ लगा है। जिसको लेकर स्थानीय लोगों और सेना के जवानों में खलबली मची है। ऐसे ही माहौल के इर्द-गिर्द गायक विकास भारद्वाज के गीत, प्वां बाघ रे गढ़वाली गीत का जागर सम्राट प्रीतम भरतवाण के हाथों ओडियो लांच किया गया है। गीत में बाघ को लेकर कुछ जगह पर हास्य व्यंग्य भी प्रस्तुत किया गया है, जो श्रोताआें को बांधे रखता है। साथ ही संगीत भी विकास भारद्वाज ने ही दिया है। गीत की शुरूआत से ही संगीत को बोल के साथ काफी ऊंचा और दिल छू जाने वाला बनाया गया है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रीतम भरतवाण ने कहा उदयमान गायक विकास भारद्वाज ने गीत के जरिये बाघ आने के माहौल को काफी करीब से समझाया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्डी लोक संस्कृति प्रचार-प्रसार में गीत मील का पत्थर साबित होगा। सोमवार को प्रेस क्लब में गढ़वाली गीत प्वां बाघ रे ऑडियो लांचिंग के दौरान पत्रकारों को जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक चंद्रवीर गायत्री ने कहा कि गाने की शूटिंग लैंसडोन एवं पौड़ी खीर्सू के आस-पास की जाएगी।

गीत पर्यावरण संरक्षण एवं बाघ के महत्व को दर्शाता है। बताया कि उत्तराखण्ड की संस्कृति में बाघ को देव स्वरूप में पूजा जाता है। उसी तरह लोक गाथाओं में नर्सिंग रूप में पूजा गया है। गीत की लांचिंग से पहले विकास भारद्वाज ने गीत की दो पंक्तियां सभी के सामने प्रस्तुत कीं। जिस पर सभी लोग झूमते दिखे। गीत में क्षेत्रीय जनता व सेना में बाघ आने से खलबली मच जाती है। उन्होंने गीत को पारम्परिक लोक गीत बताया। इस मौके पर गंभीर सिंह ज्याड़ा, प्रदीप भंडारी, राजेश रावत, अमरदीप गोदियाल, राजीव डोबरियाल, रोबिन थाना आदि मौजूद रहे। 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *