श्रीनगर मुठभेड़ में एक पुलिस जवान शहीद, तीनों आतंकी भाग निकले; दो मददगार गिरफ्तार

बटमालू में हुई भीषण मुठभेड़ के बावजूद सुरक्षाबलों की घेराबंदी तोड़ भाग निकले। इस दौरान राज्य पुलिस विशेष अभियान दल का एक जवान शहीद व तीन अन्य सुरक्षाकर्मी जख्मी हो गए। मुठभेड़ के दौरान आतंकी ठिकाने बने मकान का मालिक भी गोली लगने से जख्मी हो गया। इस बीच पुलिस ने आतंकियों की भगाने में मददगार बने दो ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार कर लिया है।

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में स्वंतत्रता दिवस के मौके पर एक बड़े हमले को अंजाम देने आए तीन आतंकी रविवार को बटमालू में हुई भीषण मुठभेड़ के बावजूद सुरक्षाबलों की घेराबंदी तोड़ भाग निकले। इस दौरान राज्य पुलिस विशेष अभियान दल का एक जवान शहीद व तीन अन्य सुरक्षाकर्मी जख्मी हो गए। मुठभेड़ के दौरान आतंकी ठिकाने बने मकान का मालिक भी गोली लगने से जख्मी हो गया। इस बीच पुलिस ने आतंकियों की भगाने में मददगार बने दो ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार कर लिया है।

सुरक्षा बल तीन दिन से चला रहे तलाशी अभियान

मुठभेड़स्थल नागरिक सचिवालय से करीब दो किलोमीटर की दूरी पर है। इस इलाके में बीते तीन दिनों से सुरक्षाबल आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर लगातार तलाशी अभियान चला रहे थे। जिस मकान में आतंकी छिपे थे,वहीं पास में यूनानी अस्पताल भी है।

ऐसे शुरू हुई मुठभेड़

रविवार सुबह पांच बजे राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर बटमालू के दयारवानी इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया। तलाशी लेते हुए जवानों ने जैसे ही आतंकी ठिकाना बने मकान में दाखिल होने का प्रयास किया, अंदर छिपे आतंकियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी तुरंत अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायरिंग की। इसके बाद वहां शुरू हुई मुठभेड़ के दौरान मकान मालिक नियाज अहमद, एसओजी में कार्यरत एसपीओ परवेज अहमद, एक पुलिस कांस्टेबल और दो सीआरपीएफ कर्मी घायल हो गए। सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां एसपीओ परवेज की मौत हो गई

तीनों आतंकी भाग निकले

संबधित सूत्रों ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान मकान में छिपे तीनों आतंकी वहां से भाग निकलने में कामयाब रहे। उनमें से एक आतंकी जख्मी है। आइजीपी कश्मीर डॉ. एसपी पाणि ने आतंकियों के भाग निकलने की पुष्टि करते हुए बताया कि उन्हें पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाया गया है। इस इलाके में आतंकियों का एक बड़ा ठिकाना था, जो तबाह कर दिया गया है। इसके अलावा आतंकियों के दो ओवरग्राउंड वर्कर भी पकड़े गए हैं। उनसे पूछताछ जारी है। 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *