लिंचिंग (भीड़ हिंसा) एक अपराध, राजनीतिक फायदा उठाना विकृत मानसिकता-पीएम मोदी

ये पार्टियां जिस समय सत्ता में थी, उन्होंने तब सिर्फ भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद और कुशासन दिया। अब ये दल यह समझ रहे हैं कि चुनाव का अंकगणित केवल जाति, वर्ग और धर्म तक ही सीमित है पर जनता उनकी यह इच्छा पूरी नहीं होने देगी-पीएम मोदी 

नई दिल्ली : देश में बढ़ रही मॉब लिंचिग जैसी घटनाओं पर प्रधानमंत्री मोदी ने आज कहा कि एेसी घटनाएं अपराध है। उन्होंने और उनकी पार्टी (बीजेपी) ने कई मौकों पर स्पष्ट शब्दों में ऐसी घटनाओं और ऐसी मानसिकता वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है।

मोदी ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए ईमेल इंटरव्यू में कहा कि मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं को महज आंकड़ों तक सीमित रख कर राजनीति करना एक मजाक होगा। एक होकर इस तरह की घटनाओं का विरोध करने के बजाय अपराध और हिंसा जैसी घटनाओं का राजनीतिक फायदा उठाना एक विकृत मानसिकता का परिचायक है।

महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री का कार्यभार ग्रहण करते ही उन्होंने लाल किले की प्राचीर से कहा था कि महिलाओं की मर्यादा की रक्षा करना सरकार, समाज, परिवार सभी की जिम्मेदारी है। सरकार के स्तर पर हमने महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकने के लिए सख्त कानून बनाए हैं जिसमें कुछ अपराधों के लिए फांसी की सजा का प्रावधान किया है।

मोदी ने कहा, मुझे अपेक्षा है कि सभी- सरकार और बड़े स्तर पर लोग, सरकार के अंग और राजनीतिक दलों की यह जिम्मेदारी है कि वे इस घृणित कार्य से लड़ें। इस मुद्दे पर नई सिफारिशें देने के लिए सरकार ने केंद्रीय गृह सचिव के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय समिति बनाई है। इसके अलावा, सरकार ने गृह मंत्री के नेतृत्व में मंत्रियों का एक समूह भी बनाया है, जो उच्च स्तरीय समितियों की सिफारिशों पर गौर करेगा।

वहीं विपक्ष के महागठबंधन पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘बीजेपी की बढ़ती लोकप्रियता से घबराकर ये विरोधी दल महागठबंधन की कोशिश में जुटे हैं। ये पार्टियां जिस समय सत्ता में थी, उन्होंने तब सिर्फ भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद और कुशासन दिया। अब ये दल यह समझ रहे हैं कि चुनाव का अंकगणित केवल जाति, वर्ग और धर्म तक ही सीमित है पर जनता उनकी यह इच्छा पूरी नहीं होने देगी, क्योंकि जनता ने बीजेपी की मेहनती सरकार की कार्यप्रणाली को देखा लिया है। उनके इरादे कामयाब नहीं होंगे।

संसद में राहुल गांधी द्वारा गले लगाए जाने के मामले में पीएम मोदी ने कहा कि यह आपके ऊपर है कि आप इसे बचकानी हरकत मानते हैं या नहीं। अगर आप फैसला नहीं कर पा रहें हैं, तो राहुल गांधी का वह आंख मारना देखिए; आपको जवाब मिल जाएगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *