एटीएम फ्रॉड रोकने के लिए बैकों को अपनाने होंगे सुरक्षा के उपाय


देहरादून। संवाददादाता। जनपद में लगातार बढ़ते जा रही एटीएम फ्रॉॅड की घटनाओं को रोकने के लिए बैंकों को सुरक्षा उपाय अपनाने होंगे। एटीएम पर गार्डों की नियुक्ति समेत सीसीटीवी कैमरे लगाया जाना भी जरूरी होगा। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने कहा कि सुरक्षा उपायों में लापरवाही बरतने वाले बैकों पर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। इसके लिए जल्दी ही अभियान चलाया जाएगा। दून और आसपास के इलाकों में एटीएम फ्रॉड की घटनाओं पर कोई अंकुश नहीं लग पा रहा है। चोर, उच्चके और बदमाश एटीएम मशीनों पर अपने शिकार का इंतजार कर रहे हैं।

आए दिन किसी ने किसी बैंक ग्राहक की मदद करने के नाम पर उसका एटीएम कार्ड बदलकर खाता धारक का खाता खाली किया जा रहा है। एटीएम फ्रॉड करने वाले बदमाशों के ज्यादातर शिकार बुजुर्ग या फिर महिलाएं होती हैं जो आसानी से बदमाशों के झांसे में आ जाती हैं। बदमाश मदद के नाम पर एटीएम कार्ड बदल लेते हैं और धोखे से एटीएम पासवर्ड जानने के बाद खाते से हजारों की रकम पार करते देते हैं। देखने में आया है कि ऐसी घटनाएं ज्यादातर उन बैंकों के एटीएमों पर हुई जिनमें सीसीटीवी कैमरे नहीं थे और सिक्योरिटी गार्ड की नियुक्ति नहीं थी।

पूर्व में पटेलनगर पुलिस ने नोटिस भेजने के बाद ऐसे कई बैंकों के एटीएम ताले मारकर सीज कर दिए थे जिनमें सिक्योरिटी गार्ड तैनात नहीं थे और सीसीटीवी कैमरे नहंी लगाए गए थे। इस कार्रवाई के बाद बैकों द्वारा सुरक्षा उपाय पूरे कर लेने के बाद बैंकों के सीज एटीएम दोबारा खोले गए थे। खाताधारकों के हित और धन की सुरक्षा को देखते हुए बीते रोज ही ऋषिकेश पुलिस ने भी कई बैंकों को नोटिस भेजे। दरअसल ऋषिकेश पुलिस को कई दिन से लगातार एटीएम का क्लोन, एटीएम बदलकर खाते से पैसे निकालने समेत फर्जी कॉल कर खाते का ओटीपी हासिल कर खाते से रकम निकाले जाने की शिकायत मिल रही थी।

जांच में पाया गया कि बहुत से एटीएम में कोई सिक्योरिटी गार्ड गार्ड नियुक्त नहीं है। जिस पर थाना प्रभारी ने ऐसे बैंकों को नोटिस दिया कि वे अपने एटीएमों में सुरक्षा गार्ड नियुक्त करें, सभी एटीएम में किसी स्पेशलिस्ट को समय-समय पर बुलाकर एटीएम चेक किया जाए कि कोई क्लोनिंग मशीन तो नहीं लगी है। बैंक अपने एटीएम के सीसीटीवी कैमरे को सही हालत में रखे। गार्ड को समय-समय पर निर्देशित किया जाए कि एटीएम में एक समय में एक ही शख्स अंदर जाए। बैंकों को स्पष्ट किया गया है कि यदि वे इन बिंदु पर कार्यवाही नहीं करते तो उनके खिलाफ आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जाएगी। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने कहा कि दून में भी समय समय पर बैकों पर कार्यवाही की गई। एक बार फिर बैंकों का चैकिंग अभियान चलाया जाएगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *