गैरसैंण राजधानी को लेकर अभियान हुआ तेज


देहरादून। संवाददाता। गैरसैण राजधानी निर्माण अभियान के तत्वावधान में परेड ग्राउंड स्थित हिन्दी भवन स्थि धरना स्थल पर सोमवार को 29वें दिन भी धरना प्रदर्शन जारी रहा। जिसमें कई वरिष्ठ बुद्धिजीवियों ने आंदोलन को अपना समर्थन दिया।

रक्षा मंच के हर्ष किमोठी ने कहा कि गैरसैंण पर सरकार को बाध्य होकर निर्णय लेना ही पड़ेगा। उन्होंने कहा कि गैरसैंण जब भी राजधानी बनती है तो वह जन जन की राजधानी बनेगी और इससे आवश्यक नीतिगत परिवर्तन आएगा और नए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। धरना स्थल पर पहुँचकर स्वामी दर्शन भारती ने कहा की गैरसैंण अकेले पाहाड़ो की ही नहीं अपितु प्रत्येक प्रदेशवासी की आवाज है। नई दिशा जनहित ग्रामीण विकास समिति (सहसपुर) से समर्थन देने आए अमर सिंह कश्यप ने कहा कि गैरसैंण के समर्थन में बहुत जल्द ग्राम प्रधानों के नेतृत्व में ग्रामीणों को उतारा जाएगा। उन्होंने सरकार से मांग की कि धरना स्थल के नजदीक साफ सफाई की ठोस व्यवस्थाएं बनाई जाए।

गैरसैण राजधानी निर्माण अभियान को समर्थन देने वालों में व धरना पर बैठने वालों में स्वतंत्र पत्रकार एवम समाज सेवी संजय थपलियाल, लक्ष्मी प्रसाद थपलियाल, मनोज ध्यानी (राज्य आंदोलनकारी), हर्ष मैंदोली, उत्तराखण्ड आंदोलनकारी मंच के जिलाध्यक्ष प्रदीप कुकरेती, मदन भंडारी, उपेन्द्र सिंह चैहान, पीसी थपलियाल, शूरवीर सिंह नेगी, आनन्द प्रकाश जुयाल, टीआर बलवंत, कृष्ण काँत कुनियाल, रविन्द्र प्रधान, चन्द्र प्रकाश बूडाकोटि, अमर सिंह कश्यप, मोहन सिंह बिष्ट, डॉ हरेंद्र सिंह नेगी, जय नारायण बहुगुणा, राकेश थपलियाल आदि बडी संख्या में मौजूद रहे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *