संविधान सम्मान यात्रा ने उत्तराखण्ड के शहीदों को श्रद्धांजलि दी


देहरादून। संवाददाता। इस साल गांधी जयंती पर शुरू हुई जन आंदोलन का राष्ट्रीय समन्वय की संविधान यात्रा शुक्रवार को देहरादून पहुंची। संविधान यात्रा में शामिल सभी लोग ने कचहरी स्थित शहीद स्मारक पहुंचकर राज्य आंदोलनकारियों को नमन करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद अग्रवाल धर्मशाला में बुद्धिजीवियों द्वारा उत्तराखण्ड के विकास में अवरोध उत्पन्न करने वाले विषयों पर विचार व्यक्त किये।

65 दिन की इस यात्रा को 2 अक्टूबर 2018 को गांधी जयंती पर दांडी से शुरू किया गया था। संविधान सम्मान यात्रा अपने अंतिम पड़ाव उत्तराखण्ड के कांडी खाल पहुंचने के बाद शुक्रवार को दून पहुंची। इस दौरान यात्रा में शामिल लोगों का राज्य आंदोलनकारियों ने स्वागत किया। जिसके बाद यात्रा में शामिल लोगों ने शहीद राज्य आंदोलनकारियों को शहीद स्मारक पहुंचकर श्रद्धासुमन अर्पित किए।

यात्रा के प्रतिनिधियों द्वारा उत्तराखण्ड के विकास को लेकर अग्रवाल धर्मशाला में एक गोष्ठि का अयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने जल-जंगल-जमीन को क्षति पहुंचाने वाले कारकों को सभी के समक्ष रखा। साथ ही इनसे राज्य को कैसे लाभ पहुंच सकता है इन विषयों को सहजता से सभी को समझाया। यात्रा रात को हरिद्वार प्रमार्थ निकेतन पहुंची जिसके बाद वापस देहरादून अग्रवाल धर्मशाल में विश्राम कर काला गढ़ दिल्ली में संपन्न होगी। इस मौके पर वरिष्ठ आंदोलनकारी कमला पंत, कुलदीप मधवाल, प्रदीप कुकरेती, विमल भाई, प्रफुल्ल समेत कई लोग मौजूद रहे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *