फेक इंडियन करंसी रैकेट का सरगना युनूस अंसारी काठमांडू एयरपोर्ट पर गिरफ्तार

नेपाल के जरिये भारत और नेपाल में फेक इंडियन करंसी का रैकेट चलाने वाले सरगना युनूस अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया है. युनूस अंसारी दाऊद इब्राहिम और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की फेक करंसी का पूरा रैकेट संभालता था.दाऊद इब्राहिम व आईएसआई के लिए करता था काम, 7.5 करोड़ की फेक करंसी बरामद

नई दिल्ली (विश्व संवाद केंद्र) : भारत के हाथ बड़ी सफलता लगी है. भारतीय सतर्कता एजेंसियों की सूचना पर नेपाल पुलिस ने नकली करंसी की तस्करी करने वाले सरगना को गिरफ्तार किया है. नेपाल के जरिये भारत और नेपाल में फेक इंडियन करंसी का रैकेट चलाने वाले सरगना युनूस अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया है. युनूस अंसारी दाऊद इब्राहिम और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की फेक करंसी का पूरा रैकेट संभालता था. इंडियन इंटेलीजेंस एजेंसी की सूचना पर युनूस को 4 पाकिस्तानी और 2 नेपाली गुर्गों के साथ काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया. इनके पास से करीब 7.5 करोड़ की फेक करंसी बरामद की गई है, ये 2-2 हजार के नोटों की खेप थी.

नेपाल पुलिस के अनुसार युनूस अंसारी नेपाल के पूर्व मंत्री सलीम अंसारी का बेटा है. बाप और बेटा दोनों आईएसआई और दाऊद इब्राहिम के करीबी हैं और नेपाल के जरिये भारत में फेक करंसी का पूरा नेटवर्क संभालते हैं. युनूस अंसारी दाऊद के संपर्क में आने से पहले भी जेल में रह चुका है, उसके बाद वो पाकिस्तान गया. जिसके बाद उसने दाऊद और आईएसआई का धंधा संभालना शुरू किया.

एयरपोर्ट पर तीन पाकिस्तानी नागरिकों की पहचान मोहम्मद नसरूद्दीन, मोहम्मद अतहर और नादिया अंबर के तौर पर हुई है. जिनके पास 3 फेक करंसी से भरे सूटकेस थे. युनूस अंसारी उनको एयरपोर्ट पर रिसीव करने आया था. जहां इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. फिलहाल सबसे पूछताछ की जा रही है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *