24 घंटे के भीतर तीन लूट की वारदात- डीजी ने दिया अल्टीमेटम, नहीं तो तबादला


देहरादून। संवाददाता। मित्र पुलिस को खुली चुनौती देते हुए बदमाशों ने पिछले दो दिनों में दून शहर में लूट की पांच वारदातों को अंजाम दे डाला है। लूट की इन वारदातों में बदमाशों द्वारा खुलेआम हथियारों का इस्तेमाल किया गया है। जिससे महिलाओं में खौफ बना हुआ है। हालांकि पुलिस मुख्यालय इन मामलो को लेकर सख्त जरूर हुआ है और वहां से जारी आदेशों में कहा गया है कि अगर सात दिनों में लूट की इन वारदातों का खुलासा नहीं किया गया तो लापरवाह थानेदारों पर गाज गिरना तय है।

शनिवार शाम से दून शहर में बदमाशों द्वारा कहर बरपाया गया है। हथियारों की नोंक पर लूट की पहली वारदात बसंत विहार थाना क्षेत्र में की गयी। जिसमें एक व्यापारी व उसकी पत्नी से बदमाशों द्वारा सोने की चेन लूट ली गयी थी। अभी पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुइ ही थी कि बेखौफ बदमाशों द्वारा रविवार सुबह नेहरूकालोनी क्षेत्र के बंगाली कोठी के समीप लूट की दूसरी वारदात को अंजाम दिया गया।

जिसमें वह एक महिला से चेन लूटने के प्रयास के दौरान मोबाइल लूट ले गये। बदमाश इसके बाद भी नहीं रूके और उन्होने दोपहर दिन दहाड़े लूट की तीसरी वारदात को कांवली रोड स्थित विजयपार्क कालोनी में अंजाम दिया। यहां भी बदमाशों ने खुलेआम फायर कर महिलाओं से चेन लूट ली। लूट की इन वारदातों के बाद पुलिस ने शहर में चैंकिंग अभियान चलाया ही था कि खबर आयी कि बदमाशों द्वारा इस बार रायपुर थाना क्षेत्र में लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है। इस बार फिर बदमाशों ने पिस्टल की नोंक पर महिला से चेन लूट ली और फरार हो गये।

लूट की एक अन्य वारदात नेहरूकालानी क्षेत्र में भी हुई है यहां बदमाशों द्वारा एक कोरियर कम्पनी में घुस कर लाखों की लूट को अंजाम दिया गया है। लूट की दो अन्य वारदात शहर कोतवाली व डालनवाला क्षेत्र में भी बतायी गयी लेकिन पुलिस द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की गयी। बहरहाल 24 घंटे के अंतराल में लूट की कई वारदातें हो जाने पर पुलिस मुख्यालय ने संज्ञान लेते हुए सभी लूट की वारदातों का 7 दिन के भीतर खुलासा करने का अल्टीमेटम जारी किया है। डीजी अशोक कुमार का कहना है कि 7 दिनों के भीतर सभी वारदातों का खुलासा करना होगा नहीं तो नकारा थानेदारों पर गाज गिरना तय है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *