कांवड़ यात्रा को मैनेज करना मित्र पुलिस के लिए बड़़ी चुनौती


देहरादून। संवादददाता। उत्तराखंड पुलिस बुधवार से शुरु हो रही कांवड़ यात्रा के लिए कमर कस रही है। पुलिस के आलाधिकारी मान रहे हैं कि यह साल में राज्य पुलिस के सामने आने वाली सबसे बड़ी चुनौती है। उत्तराखंड पुलिस के 10000 जवानों के साथ ही 6 बटालियन पैरा मिलिट्री फ़ोर्स भी इस कांवड़ यात्रा को शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए तैनात की जा रही है। लेकिन दिक्कत यह है कि कांवड़ मार्ग पर बन रहे चार-पांच पुलों की वजह से बॉटलनेक बन रहे हैं और वहां जाम लग रहा है।

हरिद्वार में देहरादून-हरिद्वार रोड पर रविवार को 5 किलोमीटर लम्बा जाम लगा जिससे लोग घंटों जाम में फंसे रहे। ऐसा ही जाम गर कांवड़ यात्रा के दौरान लगता है तो पुलिस के लिए बड़ी समस्या खड़ी हो सकती है। उत्तराखंड पुलिस के डीजी (कानून-व्यवस्था) अशोक कुमार मानते हैं कि यह एक समस्या हो सकती है। हालांकि वह कहते हैं कि इससे बचने के लिए कार्ययोजना बनाई जा रही है।

डीजी (कानून-व्यवस्था) कांवड़ ने सोमवार को ही यात्रा के लिए रूट मैप तैयार करने के लिए आज हरिद्वार में पुलिसकर्मियों को ब्रीफ़ किया। उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा साल भर में पुलिस के सामने आने वाली सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक होती है। हालांकि राज्य की पुलिस ने हर बार कांवड़ियों को नियंत्रण में रखा है और इस बार भी ऐसा ही होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *