कूड़ा निस्तारण का हल डीएम ने पुरस्कार देकर निकाला


रुद्रप्रयाग। संवाददाता। रुद्रप्रयाग में 24 जून से 30 जून तक चार स्थानीय नगर क्षेत्रों रुद्रप्रयाग, तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि और ऊखीमठ में सोर्स सेग्रिगेशन सप्ताह का आयोजन कर लोगों को जागरुक किया गया था। इसमें अपने घरों और आस-पास की जगहों से जैविक और अजैविक कूड़े को अलग-अलग कर डोर-टू-डोर कूड़े का कलेक्शन करने वाले सफाईकर्मियों को देना था।

दरअसल कूड़ा जेनरेशन की जगह पर ही उसे अलग-अलग कर देना आसान होता है बस इसके लिए इच्छाशक्ति चाहिए होती है। जैविक-अजैविक कूड़े को अलग-अलग इकट्ठा करने से उनका निस्तारण करना आसान होता है। जैविक कूड़े से कंपोस्ट खाद बनाई जाती है और अजैविक कूड़े को कॉम्पैक्ट करके बेचा जा सकता है।

सोर्स सेग्रिगेशन सप्ताह में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 40 आम लोगों के साथ ही अधिकारियों, पर्यावरण मित्रों और स्वच्छकों को पुरस्कृत किया गया। इनके अलावा लक्की ड्रॉ भी निकाला गया।

रुद्रप्रयाग के ज़िलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने पुरस्कार के रूप में चार 32 इंज के एलईडी टीवी, चार मोबाइल फ़ोन, पंखे, गीज़र समेत कई पुरस्कार वितरित किए। कूड़े के बदले पुरस्कार पाकर लोग काफी खुश थे। ज़िलाधिकारी ने कहा कि अब हर तीसरे महीने इसी तरह से लोगों को सम्मानित किया जाएगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *