बारिश से अलकनंदा उफान पर, केदारनाथ, बदरीनाथ और यमुनोत्री हाईवे मलबा आने से बंद


देहरादून। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में लगातार हुई बारिश से नदी नाले उफान पर हैं। अलकनंदा का जलस्तर भी काफी बढ़ गया है। वहीं मलबा आने से केदारनाथ, बदरीनाथ और यमुनोत्री हाईवे बंद पड़े हैं। फरासु में पुस्ता ढहने से एक आदमी अलकनंदा में बह गया है। जिसकी ढूंढ-खोज की जा रही है।
मलबा आने से रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे बंद है। बदरीनाथ नेशनल हाईवे लामबगड़ में बंद है। यहां पर सड़क पर भारी मलबा आ गया है। भारी बारिश के चलते यहां पहाड़ी से बड़े-बड़े बोल्डर गिर रहे हैं। बदरीनाथ जाने वाले वाहनों को पांडुकेश्वर में रोका गया है। श्रीनगर से करीब छह किमी. दूर रुद्रप्रयाग की ओर फरासु में मलबा आने से बदरीनाथ हाईवे बाधित हो गया है।

गुरुवार मध्य रात्री से झमाझम बारिश
यमुनोत्री धाम सहित यमुनाघाटी में गुरुवार मध्य रात्री से झमाझम बारिश हो रही है। जिसका कारण यमुनोत्री हाईवे ओरक्षा बैंड और डबरकोट में मलबा आ गया है। हाईवे रात से बंद है। बारिश के चलते अभी तक खोलने के प्रयास शुरू नहीं हो पाए हैं।

चमोली जिले के थराली सहित ग्वालदम तलवाड़ी आदि क्षेत्रों में गुरुवार रात से हो रही भारी बारिश से कई स्थानों पर भूस्खलन हुआ है। ग्वालदम-कर्णप्रयाग मोटर मार्ग के साथ ही मुंदोली-थराली मोटर मार्ग बंद है। जिसके चलते गढ़वाल से कुमाऊं का संपर्क कट गया है। इसके अलावा सारी ग्रामीण सडकें बंद हैं। भारी बारिश के चलते ग्वालदम-चिडंगा कच्ची सड़क का मलबा चिडंगा गांव के खेतों और आवासीय घरों में घुस गया है। इस कारण नंद केशरी-जोला मोटर मार्ग बंद हो गया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *