देहरादून-पिथौरागढ़ विमान सेवा : दो दिन बाद फिर चली ; ऐसे लड़खड़ाती रही तो काम न चलेगा

यात्रियों के भारी दबाव के बाद विमान कंपनी ने अब हर सप्ताह शुक्रवार, शनिवार और रविवार को देहरादून पिथौरागढ़ के बीच तीन उड़ान संचालित करने का निर्णय लिया है। लोगों ने कहा-विमान सेवा नियमित चलनी चाहिए। जिससे सीमांत के यात्रियों को 14 घंटे से अधिक सड़क का कठिन सफर तय कर देहरादून की यात्रा से राहत मिल सके।

पिथौरागढ़ : देहरादून-पिथौरागढ़ विमान सेवा दो दिन इंतजारी के बाद फिर शुरू हो गई है। पर सवाल यह है कि ऐसे लड़खड़ाती रही तो काम न चलेगा। यद्यपि आज हेरिटेज एविएशन के विमान ने इस मार्ग पर तीन उड़ान भरी। इस दौरान दोनों तरफ 54 यात्रियों ने आवागमन किया। यात्रियों के भारी दबाव के बाद विमान कंपनी ने अब हर सप्ताह शुक्रवार, शनिवार और रविवार को देहरादून पिथौरागढ़ के बीच तीन उड़ान संचालित करने का निर्णय लिया है।

हैरीटेज एयरवेज की विमान सेवा गत 13 सितंबर से प्रारंभ हुई। 17 सितंबर तक विमान सेवा नियमित रही। मौसम के खराब रहने के बाद भी सेवा देर से चली। 18 सितंबर को अचानक विमान सेवा बंद रही। पूर्व में भी प्रारंभ हुई विमान सेवा तकनीकी कारणों से बंद रही थी और आठ माह बाद प्रारंभ हो सकी। तब पंतनगर से विमान के उड़ते ही हवा में फाटक खुल गया था। इधर बुधवार को सेवा नहीं चलने के अस्पष्ट कारणों को लेकर जनता एक बार फिर संशय में है। पूर्व की घटना को लेकर जनता विमान सेवा पर सवाल उठा रही है।

शुक्रवार को हेरिटेज एविएशन का विमान निर्धारित समय पर देहरादून से यात्रियों को लेकर यहां नैनी सैनी एयरपोर्ट पहुंचा। विमान ने दिन में तीन उड़ान भरी। इस दौरान 54 यात्रियों ने आवागामन किया। इस विमान सेवा को बीते बुधवार को कंपनी ने परिचालन से जुड़े आवश्यक कारणों का हवाला देकर स्थगित कर दिया था। गुरुवार को साप्ताहिक अवकाश था। दो दिन बाद विमान सेवा के उड़ान भरने से सीमांत के यात्रियों में खासा उत्साह देखा गया। लोगों ने कहा है कि इसी तरह विमान सेवा नियमित चलनी चाहिए। जिससे सीमांत के यात्रियों को 14घंटे से अधिक सड़क का कठिन सफर तय कर देहरादून की यात्रा से राहत मिल सके।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *